skip to Main Content

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान नहीं रहे

नोबेल शांति पुरस्कार विजेता और संयुक्त राष्ट्र (यूएन) के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान का 18 अगस्त, 2018 को निधन हो गया. वे 80 वर्ष के थे. कोफी अन्नान कुछ समय से बीमार चल रहे थे। संयुक्त राष्ट्र ने ट्विटर हैंडल के ज़रिए यह जानकारी दी।

वैश्विक स्तर पर शांति प्रयासों तथा ग़रीबी उन्मूलन कार्यक्रमों के लिए विख्यात कोफी अन्नान यूएन के महासचिव बनने वाले पहले अश्वेत अफ्रीकी थे। इन्होंने संयुक्त राष्ट्र में प्रशासनिक एवं वित्तीय सुधार किए, जिसमें सचिवालय का बड़ा प्रशासनिक पुनर्गठन भी शामिल था। वर्ष 1997 में इन्होंने यूएन के विभिन्न संगठनों में सामंजस्य बढ़ाने हेतु “संयुक्त राष्ट्र विकास समूह” की स्थापना की थी।

युद्ध प्रभावित क्षेत्रों में शांति बहाल करने तथा प्रवासियों के पुनर्वास के लिए वैश्विक स्तर पर होने वाले कई प्रयासों की अगुआई कर चुके कोफी अन्नान ने बुतरस घाली के बाद संयुक्त राष्ट्र के सातवें महासचिव के रूप में अपना योगदान दिया था। 1 जनवरी, 1997 से 31 दिसम्बर, 2006 तक दो कार्यकालों के लिये ये संयुक्त राष्ट्र के महासचिव रहे. हाल के दिनों में ये रोहिंग्या तथा सीरिया के शरणार्थी संकट के समाधान हेतु कार्यरत थे। सीरिया संकट के सन्दर्भ में इन्होंने सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद से भी मुलाकात की थी।
कोफी अन्नान को उनके मानवीय कार्यों के लिए वर्ष 2001 में “नोबेल शांति पुरस्कार” से सम्मानित किया गया था।
ये कोफी अन्नान फाउंडेशन के संस्थापक और अध्यक्ष थे, साथ ही नेल्सन मंडेला द्वारा स्थापित अंतरराष्ट्रीय संगठन “द एल्डर” के अध्यक्ष भी थे।

वैश्विक योगदान:

  • इन्होंने वर्ष 1965 से 1972 तक इथियोपिया की राजधानी अदीस अबाबा में संयुक्त राष्ट्र की इकॉनोमिक कमिशन फॉर अफ्रीका के लिए कार्य किया था।
  • अगस्त 1972 से मई 1974 तक ये जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र के प्रशासनिक प्रबंधन अधिकारी के तौर पर कार्यरत रहे।
  • मई 1974 से नवंबर 1974 तक मिस्र में शांति अभियान में कोफी अन्नान ने संयुक्त राष्ट्र द्वारा कार्यरत असैनिक कर्मचारियों के मुख्य अधिकारी (चीफ़ पर्सोनल ऑफिसर) के पद पर कार्यरत रह कर महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। साथ ही इन्होंने वर्ष 1974 से 1976 तक घाना में पर्यटन के निदेशक के रूप में भी कार्य किया।
  • वर्ष 1980 में ये संयुक्त राष्ट्र के शरणार्थी उच्चायोग के उप-निदेशक नियुक्त किये गए।
  • 1984 में ये यूएन के बजट विभागाध्यक्ष के रूप में न्यूयॉर्क वापस आये।
  • वर्ष 1987 में इन्होंने संयुक्त राष्ट्र के मानव संसाधन विभाग और वर्ष 1990 में बजट एवं योजना विभाग के सहायक महासचिव का कार्यभार संभाला था।
  • ये मार्च 1992 से फ़रवरी 1993 तक शांति अभियानों के सहायक महासचिव भी रहे
  • मार्च 1993 में इन्हें यूएन का अवर महासचिव नियुक्त किया गया. ये दिसंबर 1996 तक इस पद पर कार्यरत रहे।
  • वर्ष 1997 में इन्होंने यूएन के विभिन्न संगठनों में सामंजस्य बढ़ाने हेतु संयुक्त राष्ट्र विकास समूह की स्थापना की।

कोफी अन्नान के बारे में:

  • 8 अप्रैल, 1938 को गोल्ड कोस्ट (वर्तमान देश घाना) के कुमसी नामक शहर में इन का जन्म हुआ था. ये वर्ष 1954 से वर्ष 1957 तक मफिन्तिस्म स्कूल के शिक्षार्थी रहे।
  • वर्ष 1957 में फोर्ड फाउंडेशन द्वारा प्रदान की गई छात्रावृत्ति पर ये अमेरिका गये।
  • वर्ष 1958 से वर्ष 1961 तक अमेरिका के मिनेसोटा राज्य के सेंट पॉल शहर में मैकैलेस्टर कॉलेज में अर्थशास्त्र की पढ़ाई कर इन्होंने वर्ष 1961 में स्नातक की डिग्री हासिल की।
  • वर्ष 1962 में इन्होंने संयुक्त राष्ट्र की संस्था विश्व स्वास्थ्य संगठन के लिए एक बजट अधिकारी के रूप में काम शुरू कर किया. ये वर्ष 1965 तक विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के साथ रहे।
  • इन्होंने वर्ष 1962 से वर्ष 1974 तक तथा वर्ष 1974 से वर्ष 2006 तक संयुक्त राष्ट्र में अपनी सेवाएं दीं।
  • ये अंग्रेज़ी, फ्रेंच, क्रू, अकान तथा अन्य अफ्रीकी भाषाओं के जानकार थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top