skip to Main Content

मेहुल चोकसी ने छोड़ी भारतीय नागरिकता

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के 13500 करोड़ रुपए के घोटाले के मुख्य आरोपी व हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी ने भारतीय नागरिकता छोड़ दी है। उसने गुयाना स्थित भारतीय उच्चायोग में अपना भारतीय पासपोर्ट जमा करवा दिया है। आधिकारिक सूत्रों द्वारा 21 जनवरी, 2019 को इस सन्दर्भ में जानकारी दी गई।

चोकसी ने उच्चायोग से कहा है कि उसने आवश्यक नियमों के तहत एंटीगुआ की नागरिकता ली है और भारत की नागरिकता छोड़ दी है। प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा इस मामले में विदेश मंत्रालय और जांच एजेंसियों से प्रगति रिपोर्ट मांगी गई है।

चोकसी ने पिछले वर्ष ही एंटीगुआ की नागरिकता ली थी। उस समय भारत ने इस पर कोई आपत्ति नहीं जताई थी।

भारत ने एंटीगुआ से कूटनीतिक और वैधानिक तरीक़े से संपर्क बनाते हुए पिछले साल अगस्त में एंटीगुआ से चोकसी को भारत को सौंपने का अनुरोध किया था। इसके लिए भारतीय जांच एजेंसी का एक दल एंटीगुआ भी गया था।

विदित हो कि हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी और उसका भांजा नीरव मोदी 13500 करोड़ रुपए के पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी हैं। घोटाला उजागर होने से पहले ही मेहुल चोकसी और नीरव मोदी देश छोड़कर भाग गए थे। घोटाले की जांच कर रही सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय द्वारा चोकसी को आर्थिक भगोड़ा घोषित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top